Bihar Wine Latest News 2022


Bihar Wine Latest News 2022: जैसे कि हम सभी जानते हैं कि बिहार में बिहार सरकार ने शराब को बैन किया हैं। लेकिन इसी बीच पटना हाई कोर्ट ने बिहार में शराब बंदी कानून को लागू करने वाली प्रणाली की त्रुटियां को गिनाते हुए इसे सही तरीके से लागू करने की सलाह दी है। हाई कोर्ट ने कहा कि राज्य को चाहिए कि वह प्रभावी रूप से इस कानून को लागू करने में वैज्ञानिक और ईको फ्रेंडली तकनीक अपनाए।

Read Also – सोने खरीदने वाले ग्राहकों की जागी किस्मत, कीमत में रिकॉर्डतोड़ गिरावट, 10 ग्राम अब मात्र इतने कम रुपये में खरीदें

Bihar Wine Latest News 2022: पटना हाई कोर्ट ने शराबबंदी कानून को लागू करने वाली प्रणाली की त्रुटियां गिनाते हुए इसे सही तरीके से लागू करने की सलाह दी है। एक याचिका की सुनवाई के दौरान एकलपीठ के न्यायाधीश पूर्णेंदु सिंह ने कहा कि बिहार के मद्यनिषेध और उत्पाद प्रतिबंधन कानून को ठीक से लागू न होने के कारण नागरिकों के जीवन और पर्यावरण पर प्रतिकूल असर पड़ रहा है।

अवैध शराब को नष्ट करने की वजह से पारिस्थितिकी अनसंतुलन पैदा हो रहा है। राज्य को चाहिए कि वह प्रभावी रूप से इस कानून को लागू करने में वैज्ञानिक और ईको फ्रेंडली तकनीक अपनाए। याचिका नीरज सिंह की ओर से दायर की गई थी। न्यायाधीश ने 20 पेज के आदेश में शराबबंदी कानून के नौ प्रतिकूल प्रभावों की चर्चा की। Bihar Wine Latest News 2022

Join Our Telegram Group – Click Here

आदेश में कहा गया कि राज्य मशीनरी की विफलता के कारण प्रदेश के नागरिकों का जीवन जोखिम में है। राज्य के बाहर से शराब की तस्करी धड़ल्ले से हो रही है। नेपाल और कई पड़ोसी प्रदेश से राज्य में शराब की तस्करी हो रही है। टैक्स चोरी के साथ-साथ इस धंधे में नाबालिगों को शराब परिवहन में शामिल किया गया है। शराब की तस्करी में नकली पंजीकरण वाले वाहनों का उपयोग हो रहा है। Bihar Wine Latest News 2022

आदेश के मुताबिक यही नहीं, चोरी के वाहनों का भी उपयोग हो रहा है। कई वाहनों का नंबर, इंजन नंबर और चेसिस नंबर के साथ छेड़छाड़ करने की शिकायत मिली है। शराबबंदी और उसकी तस्करी पर लगाम लगाने के लिए तैनात अधिकारियों की लापरवाही सामने आई है। Bihar Wine Latest News 2022

जांच अधिकारी तलाशी और जब्ती में कर्तव्य का पालन सही तरीके से नहीं कर रहे हैं। यहां तक कि अनुसंधान में कई खामियां पाई गई हैं। जिसका लाभ अभियुक्तों को मिलना तय है। ऐसे अधिकारियों पर सख्त कदम उठाने में राज्य सरकार विफल रही है। दोषी अधिकारियों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई नहीं किए जाने से उनका मनोबल बढ़ा हुआ है।

Bihar Wine Latest News 2022 हाई कोर्ट की नजर में ये हैं त्रुटियां : Bihar Liquor Ban 2022

1. राज्य के बाहर और नेपाल से शराब की तस्करी बढ़ी जो एक आर्थिक अपराध है।

2. शराब तस्करी में चोरी किए हुए वाहनों का उपयोग और उसमे फर्जी रजिस्ट्रेशन का इस्तेमाल।

3. मासूम बच्चों को शराब तस्करी में शामिल करना.

4. शराब को नष्ट करने से पर्यावरण पर पड़ने वाले प्रतिकूल असर।

5. तलाशी, जब्ती एवं जांच के संचालन में जांच अधिकारी द्वारा छोड़ी गई कमी।

6. दोषी अधिकारियों के खिलाफ सख्त अनुशासनात्मक करवाई करने में राज्य की विफलता

7.मानव क्षमता की हानि -शराबबंदी ने सस्ती शराब और नशीली दवाओं के सेवन को बढ़ावा दिया है, जिससे अवैध शराब की समानांतर अर्थव्यवस्था को बढ़ावा मिला है।

8. नशीली दवाओं खपत और इसके आदी व्यक्तियों की संख्या में तेज वृद्धि।

9.जहरीली शराब – मिथाइल अल्कोहल के सेवन से मृत्यु।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *